प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना के बारें में जानें

0
395

प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना क्या है? (Know About PM Shram Yogi Mandhan Yojana)

केंद्र सरकार द्वारा बजट-2019 की घोषणा के उपरांत आधिकारिक रूप से ‘प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना’ को शुरू किया गया। इस योजना को शुरू करने के पीछे यह करना है कि संगठित क्षेत्र (Organized Sector) के श्रमिकों के लिए EPF योजना होती है जिसमें उनके मूल वेतन (Basic Salary) का 12% कर्मचारी भविष्य निधि (Provident Fund) में जाता है जबकि नियोक्ता द्वारा एक समान योगदान दिया जाता है। लेकिन असंगठित क्षेत्र (Unorganized Sector) के मजदूरों के लिए ऐसा कोई भी योजना नहीं है जिससे उनके बुढ़ापे में या सेवानिवृत्ति (Retirement) पर उन्हे लाभ मिल सके। यही कारण है की केंद्र सरकार ने इस योजना को शुरू किया है जिसके द्वारा असंगठित क्षेत्र के मजदूरों को उनकी सेवानिवृत्ति पर मासिक पेंशन दी जाएगी। इस योजना द्वारा सभी असंगठित क्षेत्रो के मजूदरो को वित्तीय सहायता हेतु हर महीने 3,000/- रुपए की वित्तीय सहायता दी जाएगी।

प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना के बारें में जाने

इस योजना के लिए कौन आवेदन कर सकता है?

‘प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना’ के लिए वह मजदूर आवेदन कर सकता है जिसकी आय 15 हजार रूपये या उससे कम है। आवेदन करने वाले आवेदनकर्ता (मजदूर) की आयु 18 वर्ष से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए तभी वह इस पेंशन योजना के लिए आवेदन करने के योग्य है।

आवेदन करने के लिए पात्रता, मापदंड और लाभ –

  • 18 वर्ष से 40 वर्ष तक के मजदूर इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है।
  • 18 वर्ष की आयु में जुड़ने वाले मजदूर को 55/- रुपये मासिक राशि जमा करानी होगी।
  • 29 वर्ष की आयु में जुड़ने वाले कामगार को 100/- रुपये मासिक राशि जमा करानी होगी।
  • 40 वर्ष की आयु में जुडने वाले व्यक्ति को 200/- रुपये मासिक राशि जमा करानी होगी।
  • इस योजना का लाभ केवल उन ही मजदूरो को दिया जाएगा जिनकी आय 15 हजार या उससे कम है।
  • इसके साथ ही आवेदक का पास आधार कार्ड तथा बैंक अकाउंट डिटेल होना अनिवार्य है।
  • यदि पेंशन अवधि के दौरान मृत्यु होती है, तो पति या पत्नी को पारिवारिक पेंशन मिलनी शुरू हो जाएगी।
  • ग्राहक और उसके पति की मृत्यु पर, कॉर्पस को सरकार के पेंशन फंड में वापस जमा किया जाएगा।
  • इस योजना का लाभ मजदूर की 60 वर्ष की आयु से पेंशन के रूप में मिलना शुरू होगाप्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना के बारें में जाने

किस तरह के मजदूर इस योजना का लाभ ले सकते है?
गृह आधारित श्रमिक, स्ट्रीट वेंडर, मिड-डे मील वर्कर, हेड लोडर, ईंट भट्ठा मजदूर, मोची, रैगपिकर्स, घरेलू कामगार, वॉशर मेन, रिक्शा चलाने वाले, भूमिहीन मजदूर, कृषि श्रमिक, निर्माण श्रमिक, बीड़ी श्रमिक, हथकरघा श्रमिक, चमड़ा श्रमिक, ऑडियो-विज़ुअल श्रमिक आदि इस योजना के लिए आवेदन कर सकते है।

इस योजना से मजदूरों को क्या लाभ मिलेगा?

इस योजना के अंतर्गत, सभी पात्र मजदूरो को 60 वर्ष के बाद हर महीने 3,000/- रुपए के रूप में पेंशन मिलनी शुरू होगी।

प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें

इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। इच्छुक व्यक्ति अधिकारिक वेबसाइट (Official Website) पर जाकर के इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। इस योजना के लिए आपको कैसे आवेदन करना है, क्या-क्या डॉकयुमेंट लगेंगे आदि से संबन्धित जानकारी नीचे दी गई है।

  1. भारतीय जीवन बीमा निगम (Life Insurance Corporation, India) की अधिकारिक वेबसाइट http://licindia.in को अपने कम्प्युटर पर खोलें।
  2. इसके बाद ‘Pradhan Mantri Shram Yogi Maandhan [PM-SYM]’ के चित्र पर क्लिक करें।
  3. इसके बाद जो नया पेज खुलेगा, उसमें आप ‘Enrollment Process’ के लिंक पर करें।
  4. इसके बाद जो नया पेज खुलेगा, उसमें आप नीचे ‘Click here to locate the nearest CSC Centre’ के बटन पर क्लिक करें।
  5. उसके बाद CSC Center पेज खुलेग, आप अपने नजदीकी क्षेत्र के सेंटर को चुने। व CSC centre जा कर के ऑनलाइन आवेदन करवाएँ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here