झज्जर नगर पालिका को मिला नगर परिषद का दर्जा : ओपी धनखड़

0
50

गांव सिलानी, झज्जर में आयोजित एक कार्यक्रम में हरियाणा सरकार के कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ ने कार्यक्रम के दौरान पालिका पार्षदों  (Municipal councilors) के एक प्रतिनिधि मंडल को दी यह यह जानकारी दी कि हरियाणा सरकार ने झज्जर नगर पालिका (Municipality) को नगर परिषद (City Council) बनाने की मंजूरी दे दी है। झज्जर का अब दर्जा बढ़ गया है। पालिका के स्तर पर भेजे गए प्रस्ताव को सरकार के स्तर पर मंजूरी प्रदान कर दी गई है। सीएम मनोहर लाल, कैबिनेट मंत्री धनखड़, कविता जैन के स्तर पर इस मांग को सिरे चढ़ने में काफी मदद मिली है।

झज्जर नगर पालिका को मिला नगर परिषद का दर्जा : ओपी धनखड़

झज्जर को नगर परिषद बनाने के प्रस्ताव के लिए निदेशालय के स्तर पर इस फाइल को 4 फरवरी को ही चंडीगढ़ मंगवा लिया था। जिसके बाद अब 13 फरवरी को कैबिनेट की बैठक भी हो चुकी है। पहले से ही पूरी तैयारी में चल रहे प्रबंधन के स्तर पर नगरपरिषद के दर्जे के लिए पांच पंचायतों से प्रस्ताव मांगे गए थे। नगरपालिका ने खेड़ी-खातीवास, गुढ़ा, कैमलगढ़, खाजपुर व जौंधी से यह प्रस्ताव मांगे थे।

10 साल पहले 15 सौ की आबादी कम रह जाने के कारण झज्जर नगर परिषद बनाने के प्रस्ताव को मंजूरी नहीं मिली थी। 2011 की जनगणना के अनुसार शहर की आबादी 48,424 थी,  जो कि नपा के फार्मूले के अनुसार वर्तमान में करीब 71 हजार पहुंच गई है। नपा को नगरपरिषद का दर्जा दिलवाने के लिए केवल 50 हजार आबादी की आवश्यकता होती है, जिसे झज्जर शहर पार कर चुका है। ऐसे में अब शहर को नगरपरिषद का दर्जा दिए जाने का रास्ता साफ है।

नगरपरिषद का दर्जा मिलने के बाद मिलेंगे झज्जर शहर को फायदें –

नगरपरिषद का दर्जा मिलने के बाद शहर को काफी फायदें मिलेंगे, जो इस प्रकार होंगे –

  • इससे झज्जर शहर को विकास के लिए पहले की अपेक्षा ज्यादा बजट मिलेगा।
  • इससे शहर की सफाई तथा अन्य व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए सफाई कर्मियों की संख्या भी बढ़ जाएगी।
  • वरिष्ठ स्तर के अधिकारी भी परिषद में बैठते हुए कार्यों को निपटाएंगे। जिससे आमजन को मदद मिलना स्वभाविक है।

महत्वपूर्ण जानकारी –

  • अब झज्जर जिले में नगर परिषदों की संख्या, बहादुरगढ़ व झज्जर हो गई है।
  • आपको बता दें कि किसी शहर को नगरपालिका से नगरपरिषद का दर्जा दिलवाने के लिए शहर की आबादी 50000 होना जरूरी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here