इंडियन रेलवे ने जीती एक करोड़ी कबड्डी प्रतियोगिता

0
28

22 फरवरी से 24 फरवरी तक, हिसार में ‘तृतीय अखिल भारतीय कबड्डी प्रतियोगिता’ का आयोजन किया गया। इसे 1 करोड़ी कबड्डी प्रतियोगिता के नाम से भी जाना जाता है। देश भर से एयर इंडिया, सर्विस स्पोर्ट्स कंट्रोल बोर्ड, विजया बैंक, हरियाणा राज्य, ओएनजीसी, भारतीय रेलवे, कर्नाटक, महाराष्ट्र, सीआईएसएफ, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और बिहार कुल 12 टीमों ने भाग लिया जिनमें से 8 टीमें नेशनल क्वालिफाइड है।

हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य ने इस पतियोगिता का शुभारंभ किया व हरियाणा के खेल मंत्री, अनिल विज ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की। ‘तृतीय अखिल भारतीय कबड्डी प्रतियोगिता’ का आयोजन हिसार के महावीर स्टेडियम में किया गया।

Crown-of-one-million-2-1024×527
Crown-of-one-million-1-1024×618
relvekabdi

इंडियन रेलवे ने जीती एक करोड़ी कबड्डी प्रतियोगिता –

इंडियन रेलवे ने ‘तृतीय अखिल भारतीय कबड्डी प्रतियोगिता’ के फ़ाइनल में एक करोड़ी प्रतियोगिता को जीत कर अपने नाम किया। पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्मृति तृतीय अखिल भारतीय कबड्डी टूर्नामेंट के एक करोड़ रुपये का ताज इंडियन रेलवे के नाम हुआ।

मुख्यातिथि परिवहन मंत्री कृष्ण लाल पंवार ने एक करोड़ रुपये इनाम के फाइनल मुकाबले के लिए इंडियन रेलवे व सर्विसिज की टीमों के खिलाडियों का परिचय कराकर उनके बीच मैच शुरू करवाया। दोनों टीमों के बीच रोमांचक मुकाबला हुआ जिसमें इंडियन रेलवे ने 41 अंक प्राप्त किए जबकि सर्विसिज की टीम को 37 अंक प्राप्त हुए। मैच के मध्यांतर तक इंडियन रेलवे ने 25 जबकि सर्विसिज की टीम ने 19 अंक प्राप्त किए थे। इससे पूर्व प्रथम सेमी फाइनल मुकाबलों में इंडियन रेलवे व उत्तराखंड की टीमें भिड़ीं। इस मुकाबले में इंडियन रेलवे ने 39 अंक प्राप्त करके 33 अंक प्राप्त करने वाली उत्तराखंड की टीम को परास्त किया।

द्वितीय रनर-अप व तृतीय रनर-अप –

‘तृतीय अखिल भारतीय कबड्डी प्रतियोगिता’ में सर्विसिज की टीम द्वितीय रनर-अप रही जबकि हरियाणा की टीम तृतीय रनर-अप पर रही।

सेमी फाइनल मुकाबले में हरियाणा और सर्विसिज की टीमों के बीच मुकाबला हुआ। इसमें सर्विसिज की टीम ने हरियाणा की टीम को 49-23 अंक के अंतराल से तृतीय स्थान पर धकेल दिया।

इसके बाद सेमी फाइनल में हारने वाली उत्तराखंड व हरियाणा की टीमों के बीच मुकाबला करवाया गया जिसमें हरियाणा ने 43-35 अंक के साथ अपने तृतीय रनर-अप स्थान को बचा कर रखा।

मुकाबलों के आधार पर इंडियन रेलवे को 1 करोड़ रुपये,  सर्विसिज की टीम को 50 लाख रुपये, हरियाणा की टीम को 25 लाख रुपये तथा उत्तराखंड की टीम को 11 लाख रुपये का पुरस्कार देकर पुरस्कृत किया गया।

विजेता खिलाड़ियों को दी जाती है प्रदेश में सरकारी नौकरीयों में छुट –

एक करोड़ का ताज, परिवहन मंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने खेल व खिलाडियों को प्रोत्साहित करने के लिए सरकारी नौकरियों में खिलाडियों के लिए आरक्षण का प्रावधान किया है। सरकार ने गु्रप ए, बी व सी की नौकरियों में खिलाडियों के लिए 3 प्रतिशत जबकि गु्रप-डी की नौकरी के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण लागू किया है। इसी प्रकार खिलाडियों को उच्च स्तर का प्रशिक्षण देने के लिए हरियाणा में 2 राज्य स्तरीय खेल परिसर, 21 जिला स्तरीय खेल परिसर, 13 खंड स्तरीय खेल स्टेडियम, 160 राजीव गांधी ग्रामीण खेल परिसर, 8 तैराकी तालाब, 10 बहु उद्देश्यीय हॉल, 6 सिंथेटिक एथलेटिक्स टै्रक, 10 हॉकी एस्ट्रोटर्फ व एक फुटबाल सिंथेटिक सरफेस की सुविधा उपलब्ध हैं।

Note – वर्ष 2016 से हरियाणा सरकार द्वारा 1 करोड़ रुपये इनाम की कुश्ती प्रतियोगिता कारवाई जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here