पानीपत की नैना, हरियाणा केसरी व हिसार की मंजू बनी हरियाणा कुमारी

0
74

कैथल में तीन दिवसीय (25 फरवरी से 27 फरवरी तक) राज्य स्तरीय कुश्ती अखाड़ा एवं हरियाणा केसरी व कुमारी दंगल प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता के तीसरे दिन हरियाणा केसरी, हरियाणा कुमारी व 62 किलो भारवर्ग के फाइनल मुकाबले हुए। जिसमें हरियाणा के पानीपत जिले की नैना ने हरियाणा केसरी का खिताब जीता है।

फ़ाइनल में नैना का मुक़ाबला सोनीपत की सोनम के साथ था जिसमें मुक़ाबले के पहले 3 मिनट के राउंड में सोनम 1 अंक की लीड पर थी। दूसरे राउंड के शुरुआत में ही 3 अंक की लीड ले ली। कुछ देर बाद 1 अंक और लेते हुए खेल के 5 मिनट 22 सेकंड तक 5 अंकों की लीड से सोनम आगे रही। इसके बाद 30 सेकंड तक दोनों में काफी भिड़ंत हुई और इसमें नैना ने 4 अंक लेने के साथ बाइफाल (चित) कर दिया। तब सोनम के 9 अंक व नैना के 8 अंक थे, लेकिन बाइफाल होने से नैना ने मुकाबला जीतकर हरियाणा केसरी का किताब अपने नाम कर लिया।

खेल एवं युवा कार्यक्रम विभाग के उपनिदेशक अरुण कांत ने बताया कि नैना को डेढ़ लाख व गदा देकर सम्मानित किया गया है। वहीं  सोनम को एक लाख व तीसरे स्थान पर रही रितु मलिक को 51 हजार रुपए सम्मान सहित दिए गए है।

हरियाणा कुमारी प्रतियोगिता –

हिसार की मंजू ने जींद की मीनाक्षी को हरियाणा कुमारी प्रतियोगिता के फाइनल मुकाबले में 3-0 से हराकर खिताब अपने नाम कर लिया। दोनों ही अंतरराष्ट्रीय स्तर की महिला पहलवान हैं।

हिसार की मंजू को 51 हजार व गदा भेंट कर सम्मानित किया गाय। वहीं जींद की मीनाक्षी को 31 हजार व तृतीय भिवानी की प्रियंका को 21 हजार रुपए देकर सम्मानित किया गया।

62 किलो भारवर्ग कुश्ती मुक़ाबले –

62 किलो भार वर्ग में कैथल की संयोगिता ने रेवाड़ी की नीतू को हरा प्रथम स्थान हासिल किया। इसमें संयोगिता को 5100 रुपए, नीतू रेवाड़ी को 3100 रुपए व झज्जर की पूजा और रोहतक की कशिश को 1100-1100 रुपए नकद इनाम दिया।

हरियाणा केसरी नैना से संबन्धित

नैना अंतरराष्ट्रीय स्तर की खिलाड़ी हैं। नैना बतौर अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी सीनियर वर्ग नेशनल चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल, अंडर 23 में गोल्ड, ऑल इंडिया यूनिवर्सिटी चैंपियनशिप (All  India University Championship) में गोल्ड, वर्ल्ड चैंपियनशिप में पांचवां स्थान प्राप्त कर चुकी है। उनके कोच मंदीप हैं। मंदीप अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी साक्षी मलिक के भी कोच हैं। नैना का सपना भारत के लिए ओलिंपिक में खेल कर स्वर्ण पदक लाना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here