करनाल की बेटी महक ज्योत ने फहराया माउंट बोनेट पर तिरंगा

0
65

हरियाणा के करनाल जिले (कर्ण नगरी) की बेटी और करनाल की पहली पर्वतारोही महक ज्योत (17) ने हाल ही में साउथ अमेरिका के अर्जेन्टीना की चोटी माउंट बोनेट पर तिरंगा झण्डा फहरा कर देश का नाम रौशन किया है। महक ने अर्जेन्टीना की चोटी माउंट बोनेट पर तिरंगा झण्डा फहराने वाले सबसे कम उम्र की भारतीय होने का गौरव भी प्राप्त किया है।

इसी के साथ महक अर्जेन्टीना की चोटी माउंट बोनेट पर तिरंगा झण्डा फहराने वाली विश्व की पहली सिख लड़की है और गुरु गोड्क्षबद सिंह के प्रकाश पर्व पर महक ने माउंट बोनेट पर निशान साहिब लहराकर गुरु के शहादतों से भरे महान जीवन को अपनी श्रद्धा अर्पित की।

करनाल की बेटी महक ज्योत ने फहराया माउंट बोनेट पर तिरंगा

महक ज्योत इससे पूर्व अफ्रीका महाद्वीप की सबसे ऊंची चोटी कलिमिंजारो पर भी तिरंगा फहरा चुकी है।

महक ज्योत के पिता व सामाजिक संस्था निफ़ा के अध्यक्ष प्रीतपाल सिंह पन्नु ने बताया कि महक 5 जनवरी को अर्जेन्टीना की चोटी आकांकगुआ के लिए रवाना हुई थी। नाबालिक होने के कारण उन्हे जरूरी अथॉरिटी लैटर न होने के कारण उसकी यात्रा एक दिन के लिए स्थगित हो गई और उसे बिना आराम किए 37 घंटे कि यात्रा के बाद सीधे चढ़ाई शुरू करनी पड़ी। यहाँ से आगे का सफर शुरू करने के बाद खराब मौसम और बर्फीले तूफान ने उनका रास्ता रोक लिया और उनके टैंट बर्फ से दब गए। इस वजह से उन्हे काफी समय तक माइनस 30 से 40 डिग्री टैमप्रेचर के बीच रहना पड़ा जिससे उनकी तबीयत खराब हो गई। उनके गाइडर और डॉक्टर्ज ने आगे न जाने की सलाह दी।

आपको बता दें कि विश्व के सेवन समिट में से एक माऊंट अकोंकगुआ में सबसे ज्यादा डैथ होने के कारण इसे माऊंटेन आफ डैथ के नाम से भी जाना जाता है और यहाँ के मौसम का मिजाज कभी भी समय बदल सकता है।

माउंट बोनेट 5100 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। महक की गाइड अनिता कुंडू ने उसे हौसले व धैर्य के साथ आगे बढऩे की सलाह दी। बुखार, खराब मौसम, बर्फीली हवा की तकलीफ को झेलते हुए महक ज्योत ने माऊंट बोनेट पर तिरंगा व निशान साहेब फहराकर साबित कर दिया कि भारत की लड़कियां अपने हौसले और जिद से हर मंजिल फतह कर सकती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here