हरियाणा के इन छह शहरों में पाइपलाइन से पहुंचेगी रसोई गैस, सिलेंडर के झंझट से मिलेगा छुटकारा

0
149

जल्द ही हरियाणा के छह शहरों में घरेलू गैस सिलेंडर के झंझट से छुटकारा मिल जाएगा| इन शहरों में राज्य सरकार गृहणियों की रसोई तक पाइप के जरिये रसोई गैस पहुंचाने की योजना पर काम कर रही है। आपको बता दें कि दिल्ली से सटे गुरुग्राम और फरीदाबाद में पहले से ही पीएनजी (PNG) की सुविधा है । जल्द ही योजना के दूसरे चरण में प्रदेश के छह शहर पीएनजी से कवर होंगे।

करनाल और यमुनानगर में इस योजना पर काम शुरू हो चुका है। इसी के साथ महेंद्रगढ़, नारनौल, चरखी दादरी और भिवानी में भी पाइप के जरिये गैस रसोई तक पहुंचेगी।

सिलेंडर की बुकिंग कराने के झंझट से मिलेगी मुक्ति –
पाइप लाइन के जरिये रसोई में गैस पहुंचने से जहां सिलेंडर की बुकिंग कराने के झंझट से मुक्ति मिलेगी, वहीं सिलेंडर के फटने का खतरा भी कम होगा।

उपभोक्ता के पास आएगा गैस का मासिक बिल –
पाइप लाइन के जरिये सप्लाई होने वाली गैस काउपभोक्ता को मासिक बिल आएगा। इसके लिए बकायदा मीटर लगेंगे। गैस की सप्लाई के लिए सरकार इन शहरों में सेंटर बनाएगी। यमुनानगर और करनाल शहर में पाइप लाइन बिछाई जा रही हैं। अब जल्द ही उपभोक्तताओं को इसके लिए कनेक्शन देने शुरू किए जाएंगे।

आपको बता दें कि 23 नवंबर को पीएम नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये दक्षिण हरियाणा के महेंद्रगढ़, नारनौल, चरखी दादरी व भिवानी शहरों में भी पीएनजी की शुरूआत की थी। शिक्षा मंत्री प्रो. रामबिलास शर्मा और भिवानी-महेंद्रगढ़ के भाजपा सांसद धर्मबीर की मौजूदगी में भिवानी से इस परियोजना का शिलान्यास हुआ था।

आपको बता दें दक्षिण हरियाणा के चारों शहरों में पहले चरण में डेढ़ लाख उपभोक्ताओं को सप्लाई दी जाएगी। इस क्षेत्र में 60 सीएनजी स्टेशन भी स्थापित होंगे। इन शहरों में गाड़ियों के लिए भी सीएनजी मिलनी शुरू होगी।

हरियाणा के खाद्य एवं आपूर्ति राज्य मंत्री कर्णदेव कांबोज के अनुसार पाइप लाइन गैस सुविधा पर तेजी से काम चल रहा है।

Leave a Reply