हरियाणा प्रदेश करेगा अपशिष्ट से उर्वरक और बिजली का उत्पादन : राव नरबीर सिंह

0
27

राष्ट्रीय स्वच्छता मिशन (National Sanitation Mission) को पूरा करने के लिए हरियाणा सरकार ने बांधवाड़ी उपचार संयंत्र (Bandhawari treatment plant) को नियुक्त किया है| इस संयंत्र में में कूदे-कर्कट (Waste) को अलग अलग करके उसका निपटान किया जाएगा, इससे बिजली और उर्वरकों (electricity and fertilisers) को पैदा किया जाएगा | इस प्लांट को आस पास के गांवों द्वारा स्वास्थ्य संबन्धित शिकायतों के तहत बंद कर दिया गया था|हरियाणा प्रदेश करेगा अपशिष्ट से उर्वरक और बिजली का उत्पादन : राव नरबीर सिंह

Environment & Forest Minister of Haryana, Rao Narbir Singh ने कहा की यह प्लांट भारत में बिना किसी निवेश के अपशिष्ट निपटान का और बिजली उत्पादन का भारत में प्रथम संयंत्र होगा|

राव नरबीर सिंह ने आगे कहा की सरकार ने 20 वर्षों तक बांधवाड़ी उपचार संयंत्र से एक कंपनी “Eco Green Energy” को लीज पर लिया है|  यह कंपनी आधुनिक तरीके से हरियाणा के दो शहरों विशेषकर फ़रीदाबाद व गुरुग्राम से उत्पन्न waste को प्रयोग करके उससे बिजली और उर्वरक का उत्पादन करेगी |  यह कंपनी अपने खुद के इन्वेस्ट से यह सब कार्य करेगी और इससे उत्पन्न बिजली और उर्वरक से प्रॉफ़िट प्राप्त करेगी |

इस संयंत्र की सबसे बड़ी चुनौती, 25 लाख टन अपशिष्ट को तक अलग करना और उसका निपटान करना  है। गुरुग्राम और फरीदाबाद से प्रति दिन लगभग 1600 टन ठोस अपशिष्ट (solid waste) उत्पन्न करते हैं, जिनको यहां डंप किया जाएगा |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here