फरीदाबाद प्रदूषण के मामले में देश में दूसरे स्थान पर : WHO

0
17

World Health Organization (WHO) ने रिपोर्ट प्रकाशित की है  जिसमें फरीदाबाद को देश में दूसरे नंबर का सबसे प्रदूषित शहर घोषित किया गया है | प्रदूषण के मामले में फ़रीदाबाद को 172 अंक मिले है| वही प्रदूषण स्तर 173 लेकर कानपुर पहले स्थान पर है |

पिछले वर्ष (2017) में इसी महीने में केन्द्रीय शहरी विकास मंत्रालय (Central Urban Development Ministry) की ओर से स्वच्छ भारत रैंकिंग में फरीदाबाद को 434 शहरों के सर्वेक्षण में 88वां स्थान प्राप्त हुआ था जिसमे पूर्व निगमायुक्त सोनल गोयल को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया|

इसके बाद 27 मई 2017 को निगम सभागार में केन्द्रीय राज्यमंत्री (Union Minister of State)  कृष्णपाल गुर्जर, पर्यावरण मंत्री (Environment Minister) विपुल गोयल सहित भाजपा के सभी विधायक और तमाम अधिकारियों की फरीदाबाद को स्मार्ट सिटी बनाने के लिए कदम उठाये |

पर्यावरण के लिये लाखों पौधे लगाकर रिकार्ड दर्ज करवाने वाला फरीदाबाद शहर देश में सबसे गंदे शहरों में दूसरे स्थान पर आया है। एशिया का मेनचेस्टर कहा जाने वाला फरीदाबाद अब उद्योगों के लिए नहीं बल्कि यहाँ के प्रदूषण के लिए दुनिया-भर में चर्चित हो गया है|

शहर को प्रदूषित करने के लिए जिम्मेदार कारण  –

  • उद्योग-फैक्ट्रियों से निकलने वाला धुंआ
  • वाहनों से निकलने वाला धुआं
  • फरीदाबाद के स्टोन क्रैशरजोन (Stone Crasher Zone) से उडऩे वाली धूल
  • खुले में पड़ा कंस्ट्रस्क्शन मेलिटियल, आदि

एक साल के बाद, WHO की रिपार्ट के बाद स्मार्ट सिटी तो नही बन पाया लेकिन प्रदूषण सिटी जरूर बन गया है|

Leave a Reply