हरियाणा में 7 शहरों की परियोजनाओं पर 600 करोड़ होंगे खर्च : कविता जैन

0
11

29 अप्रैल | राज्य के 7 शहरों में 9 परियोजनाओं पर 600 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे | इन परियोजनाओ का उद्देश्य सीवरेज, पेयजलापूर्ति तथा गंदे पानी की निकासी के लिए ड्रेन बनाकर व्यवस्था को बेहतर किया जाएगा। इसके लिए सरकार की उच्चस्तरीय समिति ने मंजूरी दे दी है। जल्द इन परियोजनाओं के लिए निविदाएं आमंत्रित की जाएंगी।

शहरी स्थानीय निकाय मंत्री कविता जैन ने बताया कि अम्रुत योजना के दूसरे चरण में सीवरेज व्यवस्था बेहतर करने के लिए –

  • बहादुरगढ़ – 88 करोड़ रुपए
  • यमुनानगर में 49 करोड़ रुपए
  • हिसार में 55 करोड़ रुपए
  • रोहतक में 09 करोड़ रुपए
  • पलवल में 99 करोड़ रुपए, खर्च किए जाएंगे |

पेयजलापूर्ति व्यवस्था बेहतर बनाने के लिए रोहतक में 95 करोड़ व पलवल में 51.06 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे | सिरसा में गंदे पानी की निकासी व्यवस्था पर 8.13 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।

जैन ने बताया कि अम्रुत योजना के पहले चरण में करनाल, सोनीपत और अम्बाला शहर में 436 करोड़ रुपए खर्च कर सीवरेज प्रबंधन को दुरुस्त किया जा रहा है, जबकि वर्तमान में इस योजना के तहत 800 करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे हैं। इसमें करनाल में सीवरेज प्रबंधन पर 178 करोड़ रुपए खर्च कर 2 साल की समय अवधि में 180 किलोमीटर लंबी सीवरेज लाइन का तंत्र बिछाया जाएगा जिसमें साढ़े 10 हजार मैनहोल बनाए जाएंगे, जबकि 9216 घरों के सीवरेज कनेक्शन किए जाएंगे।

अम्बाला शहर में 144 करोड़ रुपए खर्च करते हुए 150 किलोमीटर लंबी सीवरेज लाइन का ढांचागत विकास किया जाएगा, इसमें 8,875 मैनहोल बनाए जाएंगे और 10,879 घरों को सीवरेज कनेक्शन दिए जाएंगे। सोनीपत में गंदे पानी की निकासी के लिए लाइन बदलने, बढ़ती शहरी आबादी के मुताबिक नई लाइन बिछाने और इसके सुचारू तौर पर संचालन के लिए 114 करोड़ रुपए का ठेका दिया जा चुका है और क्षेत्र में अलग-अलग स्थानों पर लाइन बदलने का काम चल रहा है।

Leave a Reply