अगर युवाओ को हरियाणा में नौकरी चाहिए तो देना होगा ये शपथ-पत्र

0
61

अगर आपको हरियाणा में सरकारी नौकरी पानी है तो युवाओ के लिए ये खास खबर है | सरकारी नौकरी की चाह रखने वाले युवाओ को दहेज का मोह छोड़ना होगा। अगर आपने दहेज लिया तो नौकरी से हाथ धोने पड़ सकते हैं।

यह बड़ा निर्णय मनोहर लाल सरकार ने दहेज प्रथा को खत्म करने के लिए लिया है। निर्णय यह है की जब भी कोई व्यक्ति सरकारी सेवा में आएगा तो उसे लिखित में शपथ-पत्र देना होगा कि वह जब कभी भी वैवाहिक गठबंधन में बंधेगा तो वह दहेज नहीं लेगा और साथ ही दहेज न लेने के कानून का सख्ती से पालन करेगा।

मुख्य डीएस ढेसी ने निर्णय को सख्ती से लागू कराने के निर्देश सभी प्रशासनिक सचिवों, विभागाध्यक्षों, मंडलायुक्तों, पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के रजिस्ट्रार और सभी जिला उपायुक्तों को जारी कर दिए हैं। हरियाणा सिविल सेवाएं (सरकारी कर्मचारी कंडक्ट) नियम, 2016 के नियम 18(2) के तहत मुख्य सचिव ने इस संबंध में पत्र भी लिखा है। मुख्य सचिव ने सभी विभागाध्यक्षों को इन दिशा-निर्देशों को सख्ती से लागू करने के लिए कहा है।

पत्र के अनुसार वैवाहिक गठबंधन के साथ जुड़ने वाले व्यक्ति को अपने ससुराल पक्ष से प्राप्त किसी भी प्रकार की संपति या धनराशि इत्यादि के बारे में भी जानकारी देनी होगी। हर सरकारी कर्मचारी को अपने विवाह के बाद विभागाध्यक्ष को शपथ-पत्र देना होगा कि उसने विवाह के दौरान किसी भी प्रकार का दहेज नहीं लिया है। सरकार ने फर्जीवाड़ा रोकने के लिए शपथ पत्र पर सरकारी कर्मी की पत्नी, पिता और ससुर के हस्ताक्षर अनिवार्य किए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here